Chullu Bhar Paani (Hindi-Humor)

0 Comment(s)
1438 View(s)
|

:: What was in my mind ::
In Hindi there are lot of interesting proverbs, which seems to have no deep meaning at first glance. But Hindi, actually has nothing in imagination or just to say.... Each word, sentence and proverb has a distinctive meaning with proper reasons behind it, we just need to find out. So read it to get the exact thought behind Hindi Proverb - "Chullu Bhar Paani Me Doob Ja". Yes it is really interesting...



चुल्लू भर पानी

बहुत सोचती थी,
मुहावरों की हक़ीक़त नहीं होती,
ऐसे ही किसी ने गढ़ दिए,
कमाने को रोटी।

अब चुल्लू भर पानी में कोई डूबेगा कैसे,
सोच सोच हँसती थी, ऐसी कल्पना की कैसे।

मगर जब मैं रोई, तो चुल्लू भर पानी हाथ आया,
दिल डूब चुका था मेरा, मन में बाढ़ था वो लाया।

समझी फिर हक़ीक़त, याद आई वो कहावत,
कैसे चुल्लू भर पानी ने मेरे ख़्वाबों को बहाया,
एक मन मरा था, दूजा उदास अब खड़ा था,
तनहा वो था इतना, जैसे ज़बरन हो जगत् में आया।

आँखों के चुल्लू भर पानी में नहा,
गंगा स्नान सा आनंद पा,
पवित्रता का चोला ओढ़े,
मरे मन को जला,
अब साथ मेरे खड़ा था मेरा नया मन,
पवित्र, पावन, निरपराध मेरा नया मन।

 0
 0
0 Comment(s) Write
1438 View(s)



0 Comments: