Rakhi (Hindi)

0 Comment(s)
563 View(s)
|

:: What was in my mind ::
Rakhi is about to come. Nothing like the beautiful old days. This year alone changed all our celebrating traditions due to Covid-19 Pandemic. We are in grief and disarray. And all wanted its end now... just like a dreadful dream. But it is still continue in our lives... in our mind... in our behavior and we are helpless... We can only remember old memories and pray for good future for all.

आने वाला है राखी का त्यौहार

तेरी उम्र हो बहुत ही लंबी
और सुरक्षित रहे मेरा भी संसार,
इसीलिए इस बार, 
नहीं गई मैं बाज़ार,
आने वाला है राखी का त्यौहार...
ना ही कोई रेशम का धागा, 
ना मैं लाई मिठाई,
नहीं आऊंगी इस बार तेरे घर,
पर मत करना भैया लड़ाई,
भाभी से बँधवा लेना धागा,
और याद करना मेरा प्यार,
आने वाला है राखी का त्यौहार...
सारा साल है फीका अपना,
नहीं मना कोई भी त्यौहार,
घर ही घर में कैद हुए सब,
बस बचा रहे हैं परिवार,
खर्चे बढ़ते, घटती कमाई,
पर नहीं शिकायत भाई,
बस ये वक्त जल्द निकल जाए,
ऐसी देती हूँ दुहाई,
फिर से लगे सावन की झड़ियाँ,
झूले-मेलों की आये बहार,
आने वाला है राखी का त्यौहार...
आने वाला है राखी का त्यौहार।

 1
 0
0 Comment(s) Write
563 View(s)



0 Comments: